Breaking News
Home » मध्य प्रदेश » इन्दौर » नर्मदा हमारे मध्यप्रदेश की जीवनरेखा है – सांसद श्रीमती सावित्री ठाकुर

नर्मदा हमारे मध्यप्रदेश की जीवनरेखा है – सांसद श्रीमती सावित्री ठाकुर

नर्मदा हमारे मध्यप्रदेश की जीवनरेखा है - सांसद श्रीमती सावित्री ठाकुर
नर्मदा हमारे मध्यप्रदेश की जीवनरेखा है – सांसद श्रीमती सावित्री ठाकुर
इन्दौर- सांसद श्रीमती सावित्री ठाकुर ने सिर पर कलश रखकर ग्राम साला से खलघाट तक पैदल यात्रा की, ग्राम साला और खलघाट पर जनसंवाद कार्यक्रम में उपस्थित जनसमूह को नर्मदा को स्वच्छ रखने का संकल्प दिलाया
नमामि देवी नर्मदे यात्रा ग्राम साला से विकासखण्ड धरमपुरी के खलघाट पहुंची। सांसद श्रीमती सावित्री ठाकुर ने नर्मदा कलश सिर पर लेकर यात्रा की अगुवाई की। ग्राम साला में जनसंवाद करने के बाद नर्मदा घाट के किनारे 5 हजार से अधिक जनसमुदाय के साथ जीवनदयिनी माँ नर्मदा नदी को स्वच्छ बनाने के लिए संकल्प लिया। यात्रा में हजारों महिलाएं उत्‍साह के साथ शामिल हुई। यात्रा में बालिकाएं सिर पर कलश लेकर “जय नर्मदा मैय्या की” जयकारे लगाकर आगे-आगे चल रही थी। खलघाट पहुंचने पर आतिशबाजी के साथ माँ नर्मदा यात्रा का स्वागत किया।
नमामि देवि नर्मदे यात्रा में लोगों का उत्साह देखते ही बनता है, बच्चे, बूढ़े, जवान, स्त्री, पुरुष, जनप्रतिनिधि और सभी वर्ग के लोगों ने घर की छतों से फूलों की वर्षाकर से यात्रा का स्वागत किया। जनसंवाद में सांसद श्रीमती सावित्री ठाकुर ने कहा कि जीवनदायिनी माँ नर्मदा नदी हमारी जीवन रेखा है। माँ नर्मदा जब तक कलकल बहती रहेगी तब तक हमारा जीवन और प्रदेश खुशहाल रहेगा और हर घर में खुशहाली छायी रहेगी। श्रीमती ठाकुर ने कहा कि माँ नर्मदा को अविरल बहने के लिए नदी के दोनों ओर 5 किमी तक फलदार पौधे रौपे जायेंगे। नदी के दोनों ओर रेवा कुंड बनाए जाएंगे। मुक्तिधाम की विशेष व्यवस्था की जायेगी। नर्मदा नदी को स्वच्छ रखने के लिए नदी के दोनों ओर वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाये जायेंगे। जिससे गन्दा पानी नदी में न मिले। घर-घर शौचालय बनाये जायेंगे। जनसंवाद यात्रा मे सांसद श्रीमती ठाकुर ने कहा कि अपनी दिनचर्या में परिवर्तन से माँ नर्मदा को पवित्र और स्वच्छ रखा जा सकता है। अपने दैनिक कार्यों को माँ नर्मदा को ध्यान में रखकर कार्य करने से ही हम नर्मदा नदी को स्वच्छ रख सकते हैं। माँ नर्मदा की महिमा का बखान तो पुराणों और ग्रंथो में मिलता है। इसको बनाये रखने के लिये नदी के किनारे पर बसने वाले लोग ही इसका महत्व जानते हैं और इसको बचाने का प्रथम कर्तव्य है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने जीवनदायिनी माँ नर्मदा नदी के संरक्षण का भार उठाया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान की सोच ने इसे जनआंदोलन बना दिया है। पूरे देश में इसकी चर्चा हो रही है। देश के बुद्धिजीवी और गणमान्य नागरिक इस यात्रा में शामिल हो रहे हैं। माँ नर्मदा का अपना जीवन है इसको कलकल बहते रहने के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में हम सब इस जनआंदोलन को सफल बनाएंगे।

Check Also

मां ने बेटी को मारकर दफनाया - भाई और बेटे के साथ मिलकर दिया बारदात को अंजाम

मां ने बेटी को मारकर दफनाया – भाई और बेटे के साथ मिलकर दिया बारदात को अंजाम

शव को कब्र से निकालने के बाद सामने आई हकीकत इंदौर- एक महिला ने अपनी बेटी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com